Shram Yogi Mandhan Yojana

हमारे देश में सबसे ज्यादा नौकरियां असंगठित क्षेत्रों में ही है क्योंकि यह सरकार की निगरानी में नहीं है इसलिए सरकार का इस पर कोई ज्यादा नियंत्रण भी नहीं है इस असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले अधिकांश लोग गरीबी रेखा के नीचे ही रहते हैं उनके पास में इतने पैसे नहीं होते हैं कि बाहर अपने लिए कुछ पैसे को बचा सके इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार Shram Yogi Mandhan Yojana को लेकर आई है इसकी मदद से असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले को  करोड़ों  लोगों को मदद मिलेगी |

हम यहां पर श्रम योगी मानधन योजना के बारे में आपको संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं हम यहां पर जानेंगे कि आप इस वजह का लाभ कैसे ले सकते हैं अगर आप और असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं असल में इस योजना के तहत सरकार लोगों को पेंशन दे रही है अगर आपके पास एक सरकारी नौकरी है तभी जाकर आपको पेंशन प्राप्त होती है अगर बाकी कोई भी नौकरी आप कर ले तो उसने आपको आपके रिटायर होने के बाद में पेंशन नहीं दी जाती है इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार योजना लेकर आई है |

क्योंकि जो लोग असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे हैं जब उनकी उम्र ज्यादा हो जाएगी और वह काम करने योग्य नहीं रहेंगे तो पैसे की सख्त जरूरत होती है ऐसे में Shram Yogi Mandhan Yojana काफी ज्यादा मददगार होगी क्योंकि इसके जरिए जो है उनको हर महीने पेंशन दी जाएगी जिससे कि वह अपने जीवन का गुजारा कर पाएंगे |

अगर आप हमारे इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़ते हैं तो इस पोस्ट के अंतिम तक आप को इस योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी मिल जाएगी कि इस योजना के लिए आप कैसे आवेदन कर सकते हैं उसके लिए कौन सी दस्तावेजों की  जरूरत है |

Shram Yogi Mandhan Yojana

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना भारत सरकार के श्रम और रोजगार मंत्रालय (भारत) द्वारा फरवरी 2019 में असंगठित क्षेत्र के गरीब मजदूरों के लिए न्यूनतम 18 वर्ष से अधिकतम 18 वर्ष की आयु में शुरू की गई एक सामाजिक कल्याण योजना है |

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना 18 से 40 वर्ष की आयु के असंगठित श्रमिकों के लिए उपलब्ध है इसके अलावा, श्रमिक की मासिक आय 15,000 हजार से कम होनी चाहिए,  इस योजना के तहत, ग्राहक को 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद प्रति महीने 3,000 हजार की न्यूनतम सुनिश्चित पेंशन मिलेगी |

योजना से लाभान्वित होने के लिए, श्रमिकों को (55 मासिक (18 वर्ष की आयु के लिए) योगदान करना होगा और यह उम्र के अनुसार बदलता रहता है। एक वर्ष के लिए अधिकतम योगदान (2400 (प्रति माह रु। 200) से अधिक नहीं हो सकता है। इसके अलावा, यदि ग्राहक की मृत्यु हो जाती है, तो लाभार्थी का पति पारिवारिक पेंशन के रूप में 50% पेंशन पाने का हकदार होगा। पारिवारिक पेंशन केवल पति या पत्नी के लिए लागू होती है |

श्रम योगी मानधन योजना के लाभ

चलिए अभी हम इस योजना के लाभ के बारे में बात कर लेते हैं कि आप को इस योजना के तहत किस प्रकार से लाभ मिलने वाला है 

  • इस योजना में सबसे पहले आपको पैसे लगाने की जरूरत है जितने पैसे आप हर महीने इस योजना में जमा करवाएंगे अपनी सरकार भी आपके अकाउंट में पैसे जमा करेगी
  • अगर आपको ₹1000 हर महीने जमा करवाते हैं तो सरकार भी आपके अकाउंट में ₹1000 ऐड करेगी | 
  • यहां यहां असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए काफी ज्यादा महत्वपूर्ण है | 
  • 60 वर्ष की उम्र के बाद में आपको इस योजना के जरिए पैसा प्राप्त होगी | 

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana

निष्कर्ष 

आज की पोस्ट में हमने आपको Shram Yogi Mandhan Yojana के बारे में बताया है वह भी बिल्कुल सरल भाषा में जिससे आपको इस योजना के बारे में जानकारी प्राप्त करने में किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं होगी हमने इस पोस्ट में लगभग हर एक सवाल का जवाब दे दिया है लेकिन फिर भी कोई ऐसा सवाल है जिसका जवाब आप जाना चाहते हैं तो आप मुझे कमेंट में भी बता सकते हैं | 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here