Krishi Input Subsidy Yojana

आज हम बिहार सरकार के द्वारा चलाई जा रही एक महत्वपूर्ण योजना के बारे में आपको अवगत करवाने वाले हैं जहां पर सरकार ने राज्य के किसानों को लेकर काफी परियोजना को शुरू करने का फैसला किया है आज हम इस पोस्ट के माध्यम से Krishi Input Subsidy Yojana के बारे में जानकारी को देने जा रहे हैं |

जहां पर हम आपको बताएंगे कि Krishi Input Subsidy Yojana के लिए अगर आप आवेदन करने की सोच रहे हैं तो वह आप किस प्रकार से कर सकते हैं और बिहार सरकार किस प्रकार से इस योजना के तहत किसानों को फायदा पहुंचाएगी इससे संबंधित संपूर्ण जानकारीयों को आपके साथ में शेयर करेंगे, इसके अलावा हम यह भी बताएंगे कि आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया क्या है और पूरी प्रक्रिया के बारे में हम आपको इस पोस्ट में नीचे विस्तार से बताएंगे |

हमारे देश में आज भी किसानों की हालत कुछ ज्यादा अच्छी नहीं है उनके ऊपर काफी ज्यादा कर्ज है जो कि वह कभी नहीं चुका सकते हैं क्योंकि जब भी फसल अच्छी होती है तो किसी ना किसी कारण से फसल बर्बाद हो जाती है फिर चाहे  वह प्रकृतिक आपदा हो या फिर किसी दूसरे कारणों से किसानों को नुकसान पहुंच रहा है |

जैसा कि अगर आपको पता है बिहार में हर साल बाहार आती है जिसके कारण राज्य के किसानों को हर साल लाखों रुपए का नुकसान होता है इसीलिए सरकार ने जो है इस योजना की शुरुआत की है जिन भी किसानों को बाहार के कारण नुकसान पहुंचेगा उनको सरकार मुआवजा देगी | 

हम यहां पर आपको यह भी बताएंगे कि सरकार किस प्रकार से मुआवजा देगी और कौन से किसानों का इस योजना से फायदा मिलेगा अगर आप सारी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारी इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़ें | 

Krishi Input Subsidy Yojana

कृषि विभाग ने बिहार राज्य में किसान कल्याण के लिए KrishiInput सब्सिडी योजना शुरू की है कृषिइंफुट सब्सिडी योजना जुलाई या सितंबर 2019 के महीने में सूखे या बाढ़ के कारण प्रभावित फसलों के खिलाफ सब्सिडी प्रदान करती है।

इस योजना के तहत, बिहार सरकार किसानों को कृषि के विकास और विकास के लिए सब्सिडी प्रदान करती है। कृषि उपकरण योजना में कृषि उपकरण, बीज, सिंचाई सुविधा, परिवहन, आदि की खरीद के लिए सब्सिडी शामिल होगी।

योजना को शुरू करने के पीछे भी है सरकार का यह उद्देश्य है कि राज्य में जितने भी किसान है उनको सरकार का पूरा लाभ मिल सके और किसी भी किसान को आत्महत्या करने पर मजबूर ना होना पड़े इसके लिए बिहार सरकार पूरी तरीके से काम कर रही है अगर आप सभी बिहार राज्य में रहते हैं और आप किसान है तो यह योजना जरूर आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी | 

Mission Karmayogi Yojana 2021 Hindi

योजना के लिए आवेदन कौन कर सकता है?

  • केवल किसान भाई, जो कि बिहार के स्थायी निवासी हैं, इस योजना का लाभ उठाने के पात्र हैं।
  • ओलावृष्टि या बेमौसम बारिश के कारण कृषि फसल को नुकसान होने की स्थिति में कृषि इनपुट अनुदान योजना का लाभ उठाया जा सकता है।
  • ओलावृष्टि या बेमौसम बारिश से नुकसान के लिए इस योजना का लाभ किसान अपनी कृषि भूमि के लिए ही उठा सकता है।
  • किसान के हिस्सेदार होने के मामले में, खेती + स्व-भूमि के मामले में भूमि के दस्तावेज के साथ स्व घोषणा पत्र संलग्न करना अनिवार्य है।

इससे क्या फायदा मिलने वाला है?

हम यहां पर आपके साथ हैं इस योजना के कुछ फायदे के बारे में भी बात कर लेते हैं जिसके तहत आपको इस योजना के बारे में और अच्छे से जानकारी मिल पाएगी और अगर आप अभी बिहार में रहते हैं तो आप अभी जो है इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं |

  • कृषि इनपुट सब्सिडी योजना के तहत केंद्र सरकार और राज्य सरकार के कुछ पैरामीटर हैं इसके तहत खरीफ में खड़ी फसलों में ओलावृष्टि के कारण स्थिति पैदा होने पर किसानों को सब्सिडी / अनुदान देने का प्रावधान किया गया है। मौसम ।
  • कृषि इनपुट सब्सिडी योजना किसानों को लाभान्वित करने के लिए विभाग ऑनलाइन पंजीकृत किसान ही होंगे, जिसका अर्थ है कि इस योजना के तहत किसान आपका आवेदन कर सकता है कि किसान पंजीकरण कृषि विभाग के माध्यम से किया गया है।

इस योजना की विशेषता 

  • असमय वर्षा और ओलावृष्टि से फसलों के नुकसान के लिए सहायता प्रदान करें।
  • इस योजना में, गैर-सिंचित क्षेत्र में फसल के लिए 6800 रुपये प्रति हेक्टेयर दिया जाता है और ओलावृष्टि के कारण
  • फसल के नुकसान पर सिंचित क्षेत्र के किसान को 13500 रुपये प्रति हेक्टेयर दिया जाता है।
  • कृषि इनपुट अनुदान योजना का लाभ केवल ऑनलाइन आवेदन के माध्यम से लिया जा सकता है।
  • कृषि इनपुट सब्सिडी योजना का लाभ उठाने के लिए, आपके जिले को सूखाग्रस्त घोषित किया जाना चाहिए।
  • रुपये की दर से अनुदान। बिहार में कृषि योग्य भूमि के लिए 12,200 प्रति हेक्टेयर दिया जाएगा जहां रेत / गाद जमा 3 इंच से अधिक है।
  • डीबीटी बिहार कृषि इनपुट सब्सिडी योजना में प्रति हेक्टेयर न्यूनतम 1000 रुपये की सहायता देने का प्रावधान है।
ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

हम यहां पर आपको बताने जा रहे हैं कि आप किस प्रकार से Krishi Input Subsidy Yojana के लिए आवेदन कर सकते हैं हम यहां पर आपको ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी  देंगे |

  • कृषि इनपुट सब्सिडी योजना
  • प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना (दोपहर किसान योजना)
  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना पर पुनर्विचार के लिए आवेदन
  • सूखाग्रस्त ब्लॉकों के लिए कृषि इनपुट सब्सिडी योजना
  • कृषि इनपुट सब्सिडी योजना सूखाग्रस्त ब्लॉक के लिए।
  • डीजल अनुदान KMS
  • प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना
  • कृषि यंत्रीकरण योजना
  • बीज अधिशासित राज्य सरकार के लिए आवेदन
  • बीज अनुदान योजना आवेदन
निष्कर्ष 

हमें यहां पर आपको Krishi Input Subsidy Yojana के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करती है और अगर आप बिहार के किसान हैं तो जो आपको इस योजना के लिए आवेदन करना चाहिए इसके अलावा भी अगर आपको कोई जानकारी की जरूरत है तो आप हमें नीचे कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here