Jal Shakti Abhiyan

पानी की समस्या पूरी दुनिया भर में बढ़ती जा रही है अगर अपने भारत की ही बात करें तो देश की एक बहुत बड़ी आकृति आज भी पानी के लिए संघर्ष कर रही है इसी बात को सरकार ने भी ध्यान में लिया है सरकार एक नई योजना लेकर आई है इसके माध्यम से सरकार हर गांव कस्बे में पानी को रखने की सुविधा करेगी जब भी बारिश होगी तो बारिश के पानी को करके रखा जाएगा और पानी की जरूरत होगी तो उसका उपयोग किया जाएगा, आज हम इस पोस्ट में आपको Jal Shakti Abhiyan के बारे बताने वाले है |

शक्ति अभियान के तहत देश के हर नागरिक को यह सिखाया जाएगा कि पानी को बचाना कितना जरूरी हो गया है अगर हमने अभी ध्यान नहीं दिया तो आने वाले समय में पानी को लेकर काफी बड़ी समस्याएं हो सकती है इस बात को सरकार भी काफी ज्यादा गंभीरता से ले रही है योजना को लेकर आ रहे हैं हमारी पोस्ट में भी आपको सरकार के द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में बताते रहते हैं इस बार हम जो है आपको Jal Shakti Abhiyan के बारे में बता रहे हैं | 

वैसे अगर देखा जाए तो इस योजना के तहत तक आम नागरिक को सीधा ही कोई फायदा तो नहीं होगा लेकिन इस योजना के तहत आने वाले समय में हर किसी को फायदा होगा इसके तहत जहां पर भी पानी को स्टोर करने की संभावना होगी वहां पर  पानी को स्टोल करके रखा जाएगा, और फिर जरूरत के समय उस पानी का इस्तेमाल किया जाएगा इसके लिए सरकार अलग से बजट दे रही है ताकि पानी को स्टार्ट करने के लिए व्यवस्था बनाई जा सके | 

Jal Shakti Abhiyan Kya Hai?

जलसंचय पर माननीय प्रधान मंत्री की प्रेरणा से प्रेरित होकर, जल शक्ति अभियान (JSA) एक समयबद्ध, मिशन-मोड जल संरक्षण अभियान है JSA दो चरणों में चलेगा: चरण 1 से 1 जुलाई से 15 सितंबर 2019 तक सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए; और चरण 2 से 30 अक्टूबर 2019 तक राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए मानसून (आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, पुडुचेरी और तमिलनाडु) प्राप्त कर रहे हैं |

अभियान के दौरान, भारत सरकार के अधिकारी, भूजल विशेषज्ञ और वैज्ञानिक भारत के सबसे जल-तनाव वाले जिलों में राज्य और जिला अधिकारियों के साथ मिलकर जल संरक्षण और जल संसाधन प्रबंधन के लिए पांच लक्षित हस्तक्षेप के त्वरित कार्यान्वयन पर ध्यान केंद्रित करके काम करेंगे। जेएसए का उद्देश्य संपत्ति संरक्षण और व्यापक संचार के माध्यम से जल संरक्षण को जन आंदोलन बनाना है |

जैसा कि भारतीय जनता पार्टी ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में वादा किया था, जल शक्ति का एक एकीकृत मंत्रालय मई 2019 में देश में बढ़ते जल संकट की तत्काल प्रतिक्रिया के रूप में शुरू किया गया था।

इसने जल मंत्रालय, नदी विकास और गंगा कायाकल्प जैसे मौजूदा मंत्रालयों और विभागों के पुनर्गठन के साथ-साथ इस नए मंत्रालय की छतरी के नीचे आने वाले पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय को भी देखा।

इसके सरकार बताएंगे कि कौन से तरीके हैं कि पानी को स्टार्ट करके रखा जा सकता है हम आपको यहां पर उनमें से कुछ सबसे बढ़िया तरीकों के बारे में बता रहे हैं जिससे आपकी जान सके कि अगर आप आने को बचाने चाहते हैं अपने गांव या कस्बे में तो आप किस प्रकार से बचा पाएंगे |

  • जल संरक्षण और वर्षा जल संचयन
  • पारंपरिक और अन्य जल निकायों / टैंकों का नवीनीकरण
  • पुन: उपयोग और पुनर्भरण संरचनाओं
  • वाटरशेड विकास
  • गहन वनीकरण

शक्ति अभियान से क्या फायदा होगा?

इस योजना के शुरू होने के बाद से ही इसका परिणाम देखने को मिल गया है अगर आप किसी गांव में रहते हैं तो वहां पर आप ग्राम पंचायत या फिर आप सरकारी स्कूलों में जरूर देखने को मिल जाएगा कि वहां पर पानी को स्टोर करने के लिए सुविधा की गई है वहां पर आपको बहुत बड़े-बड़े पानी को स्टोर करने के लिए जमीन के अंदर खड़ा किया गया है जहां पर काम को स्टार्ट करके रखा जाता है और सभी जगह पर पाए गए हैं ताकि उसके में पानी आ सके मुझे पूरी उम्मीद है कि इस प्रकार के सुविधा की होगी |

यह दो चरणों में चलेगा:

  • सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए 1 जुलाई से 15 सितंबर 2019 तक चरण 1
    2 अक्टूबर से 30 नवंबर 2019 तक चरण 2 से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए मानसून की वापसी
  • इसके बाद में आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, पुडुचेरी और तमिलनाडु शामिल हैं।
  • सरकार के अधिकारी, भूजल विशेषज्ञ और वैज्ञानिक भारत के अधिकांश पानी से प्रभावित जिलों में राज्य और जिला अधिकारियों के साथ मिलकर काम करेंगे।
  • ये 255 जिले हैं जिनके महत्वपूर्ण और अत्यधिक दोहन वाले भूजल स्तर हैं।
  • पांच लक्ष्य हस्तक्षेपों के त्वरित कार्यान्वयन पर ध्यान केंद्रित करके जल संरक्षण और जल संसाधन प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित किया गया है।
  • इस अभियान का उद्देश्य कोई फंडिंग कार्यक्रम नहीं था और न ही इस पर कोई नया हस्तक्षेप था।
  • इसका उद्देश्य केवल जल संरक्षण को लोगों के आंदोलन के माध्यम से करना है, जैसे कि मनरेगा और अन्य सरकारी कार्यक्रमों के माध्यम से चल रही योजनाएँ।

SFURTI Yojana | Detail, How To Apply

निष्कर्ष 

पोस्ट को पढ़ने के बाद में Jal Shakti Abhiyan के बारे में संपूर्ण जानकारी मिल ही गई होगी हमने यहां पर आपको हर एक जानकारी का विस्तार से प्रदान की है जिसे आप को समझने में कोई परेशानी नहीं होगी अगर फिर भी आपको कोई ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब इस पोस्ट में नहीं मिल पाया है तो आप हमें नीचे कमेंट में भी बता सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here