GOBAR-DHAN Yojana Hindi 2021 | गोबर धन योजना

हमारे देश की सरकार का उद्देश्य है कि किसानों की आय को दोगुना करना जितना जल्दी हो सके लेकिन सरकार भी जानती है कि किसानों की आय को दोगुना करना इतना आसान नहीं है क्योंकि अभी भी किसानों के लिए काफी काम करना बाकी है और इसी बात को केंद्र सरकार भी अच्छी तरीके से जानती है इसीलिए वह किसानों के लिए नई-नई योजनाएं लेकर आ रही हैं इन योजनाओं के बारे में आज हम यहां पर बात करने जा रही है जहां पर हम आपको बताएंगे कि GOBAR-DHAN Yojana क्या है और किस प्रकार से जो है यह आम किसानों के लिए उपयोगी साबित हो सकती है |

हम यहां पर आपको GOBAR-DHAN Yojana के के बारे में बिल्कुल ही विस्तार से जानकारी देंगे इसी के साथ में हम आपको यह भी बताएंगे कि अगर आप एक किसान है और इस वजह के लिए आप को जानकारियों की जरूरत है तो वह तो हम आपको इस पोस्ट में बता रहे हैं लेकिन इसी के साथ में हम आपको इस सूचना से जुड़ी हुई कुछ महत्वपूर्ण सवालों के जवाब भी देंगे जिससे कि आप इस योजना के बारे में बेहतर तरीके से समझ सके |

केंद्र सरकार हो या फिर राज्य सरकारी सभी सरकार अपने अपने स्तर पर किसानों के लिए काम कर रही है उनके जीवन में बदलाव लाया जा सके और उन्हें आत्महत्या करने से रोका जा सके | क्योंकि हमारे देश में सबसे ज्यादा बुरी स्थिति में किसान ही है क्योंकि उनके ऊपर बैंकों के काफी ज्यादा कर्ज है जो कि वह सही समय पर नहीं चुका पाते हैं |

आप अगर किसान हैं तो हमारी यह पोस्ट तो आपके लिए उपयोगी है ही इसके अलावा कि हमने किसानों से संबंधित काफी योजनाओं के बारे में जानकारी देती है आप एक बार उनको भी ध्यानपूर्वक पढ़ें |

GOBAR-DHAN Yojana

योजना की शुरुआत पूर्व वित्त मंत्री के द्वारा की गई थी जहां पर अरुण जेटली ने 2018 में इस योजना की शुरुआत की थी स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) में स्वच्छ गाँव बनाने के लिए दो मुख्य घटक शामिल हैं खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) गाँव बनाना और गाँवों में ठोस और तरल कचरे का प्रबंधन करना। 3.5 लाख से अधिक गांवों, 374 जिलों और 16 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों को ओडीएफ घोषित किया गया है |

यह चरण ओडीएफ-प्लस गतिविधियों के लिए निर्धारित है जिसमें ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबंधन (एसएलडब्ल्यूएम) बढ़ाने के उपाय भी शामिल हैं GOBAR-DHAN योजना, गांवों को साफ रखने, ग्रामीण परिवारों की आय बढ़ाने और मवेशियों के कचरे से ऊर्जा उत्पादन पर ध्यान केंद्रित करने के साथ इस ओडीएफ-प्लस रणनीति का एक महत्वपूर्ण तत्व है।

कार्यक्रम को एसबीएम-जी दिशानिर्देशों के एसएलडब्ल्यूएम फंडिंग पैटर्न का उपयोग करके लागू किया जाएगा। एसएलडब्ल्यूएम परियोजनाओं के लिए एसबीएम (जी) के तहत कुल सहायता प्रत्येक जीपी में कुल घरों की संख्या के आधार पर काम की जाती है जो कि 150 घरों तक की जीपी के लिए अधिकतम 7 लाख रुपये के अधीन है 300 से 12 लाख रुपये तक परिवारों, रु। 500 घरों तक 15 लाख और 500 से अधिक घरों वाले GPs के लिए 20 लाख रु। एसबीएम (जी) के तहत एसएलडब्ल्यूएम परियोजना के लिए धन केंद्र और राज्य सरकार द्वारा मौजूदा फॉर्मूले के अनुसार 60:40 के अनुपात में प्रदान किया जाता रहेगा।

Rajasthan Social Security Pension Yoajana Hindi |

योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है?

हमने यहां पर अभी तक आपको जानकारी प्रदान करते हैं GOBAR-DHAN Yojana क्या है और इससे जुड़ी हुई कुछ महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में भी आपको बताया जिससे कि आपको इस योजना के बारे में  पूरी जानकारी मिल गई होगी लेकिन अभी हम बात करते हैं कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है और सरकार ने इस योजना को क्यों किया है जिससे कि आपको इसके बारे में और बेहतर जानकारी मिल पाएगी |

सरकार इस योजना के तहत स्वच्छ भारत मिशन को पूरा करने में मदद मिलेगी यह सरकार का उद्देश्य है क्योंकि इस योजना के तहत गांव और कस्बों को साफ बनाने में काफी ज्यादा मदद मिलने वाली है जहां पर सरकार के लिए खास ध्यान दे रही है कि किस प्रकार से जो है देश को साफ और सुंदर बनाया जा सके स्वच्छ भारत मिशन और यह योजना भी उसी का एक उदाहरण है |

योजना के लिए रजिस्टर किस प्रकार करें?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम अपने मासिक संबोधन में, मान की बात, 2018-19 के बजट में घोषित गोबर-धन (गैलवनाइजिंग ऑर्गेनिक बायो-एग्रो रिसोर्सेज) योजना का उल्लेख किया। इस योजना के तहत, खेतों के गोबर और अपशिष्ट उत्पादों को खाद, जैव-गैस और जैव-सीएनजी में परिवर्तित किया जाएगा।

सभी आवेदक जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, फिर आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें। हम योजना लाभ, पात्रता मानदंड, योजना की मुख्य विशेषताएं, आवेदन स्थिति, आवेदन प्रक्रिया और “जैसे” GOBAR-DHAN योजना 2021 “के बारे में कम जानकारी प्रदान करेंगे।

  • गोबर-धन योजना की आधिकारिक वेबसाइट ई.ए. Subam.gov.in

  • होमपेज पर, आपको पंजीकरण का विकल्प दिखाई देगा, आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा
  • एप्लिकेशन फॉर्म पेज स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा।
  • अब आवश्यक विवरण दर्ज करें (सभी विवरण जैसे व्यक्तिगत विवरण, पते का विवरण, पंजीकरण विवरण आदि का उल्लेख करें)
  • आवेदन के अंतिम सबमिशन के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • सबमिट बटन पर क्लिक करने के बाद, आपका पंजीकरण पूरा हो जाएगा।
  • इसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन नंबर मिलेगा जिसे आपको भविष्य के लिए सुरक्षित रखना होगा।

 

 

 

shailendra singhhttps://eazyhindi.net
shailendra singh is the Author of the eazyhindi.net He has also completed his graduation in Computer science from sagar (mp) . He is passionate about Blogging Here I regularly share useful and helpful information for my readers.

Related Post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles

Ramai Awas Gharkul Yojana Hindi | रमाई आवास योजना

हम आज इस पोस्ट के माध्यम से महाराष्ट्र सरकार की एक योजना के बारे में बात करने जा रहे हैं जहां पर हम बात...

Biju Swasthya Kalyan Yojana Odisha in Hindi

आज के इस योजना में सरकार का मुख्य ध्यान देश के लोगों के स्वास्थ्य और प्रदूषण को लेकर है सरकार ने इस योजना की...

UP Shadi Anudan Yojana Hindi: उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना,ऑनलाइन आवेदन

हम आज इस पोस्ट में आपके साथ में उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा चलाए जा रहे सबसे महत्वपूर्ण योजना के बारे में इस पोस्ट...

Ghar Ghar Ration Yojana | (घर घर राशन)

आज हम दिल्ली सरकार के द्वारा चलाई जा रही योजना के बारे में बात करने वाले हैं जहां पर हम आपको बताएंगे कि यह...

Jal Shakti Abhiyan Kya Hai? (जल शक्ति अभियान)

पानी की समस्या पूरी दुनिया भर में बढ़ती जा रही है अगर अपने भारत की ही बात करें तो देश की एक बहुत बड़ी...
Google »Translate